जागृति विकम द्वारा मुम्बई के मर्सडीज़ बेंज लैंडमार्क कार शोरूम में भव्य फैशन शो “क्लैश ऑफ कलर्स” का हुआ आयोजन

Aatarah और चल चरखा द्वारा आयोजित शानदार प्रोग्राम में श्वेता खंडूरी, रुश्द राणा,  ऐश्वर्या राय बच्चन की डांस टीचर लता सुरेन्द्र, एंकर सिमरन आहूजा हुईं शामिल

मर्सडीज़ बेंज लैंडमार्क कार और जागृति विकम द्वारा मुम्बई में एक अनोखे फैशन शो का आयोजन किया गया, जिसका नाम था “क्लैश ऑफ कलर्स” द इलिट फैशन शो। चल चरखा द्वारा प्रस्तुत इस फैशन शो में कई सेलेब्रिटीज़ ने शिरकत की। इसका भव्य आयोजन मर्सडीज़ बेंज लैंडमार्क कार शोरूम, घोडबंदर रोड, ब्रह्मांड कॉर्नर, ठाणे में हुआ। जागृति विकम के Aatarah के सहयोग से इस शानदार प्रोग्राम को आयोजित किया गया जहां काफी मेहमान और मीडियाकर्मी भी मौजूद थे। कोविड 19 की तमाम गाइडलाइंस को फ़ॉलो करते हुए यहां मेहमानों ने मास्क, सेनेटाइजर का इस्तेमाल किया और सोशल डिस्टेंस बना कर रहे। के रवि शंकर ने दिया जलाकर प्रोग्राम की शुरुआत की।

इस फैशन शो में एक्टर रुश्द राणा, श्वेता खंडूरी,आरजे उर्मिन (फीवर 104 एफएम), प्रीति भल्ला (सिंगर), ऐश्वर्या राय बच्चन की डांस टीचर लता सुरेन्द्र, रुपाली भोंसले (मराठी ऎक्ट्रेस), हिना शेख, मैनिनी डे, सारा आरफीन खान जैसी हस्तियां मौजूद थीं। इंटरनेशनल सेलेब्रिटी होस्ट सिमरन आहूजा इस ग्रैंड शो की एंकर थीं। उन्होंने बखूबी इस शो की एंकरिंग की। सिंगर क्रिस्टीना उरणकर ने यहां गा कर समां बांध दिया। वह नर्स भी हैं फ्रंटलाइन वारियर हैं। अपने छोटे भाई के साथ उन्होंने तेरी दीवानी, रश्के कमर, दिल दे दिया है जां तुम्हे देंगे, सुन रहा है ना तू जैसे हिट गाने गाए। भारती दीदी ने हेयर और मेकअप किया।

इस फैशन शो में साड़ी पहनकर मॉडल्स ने वाक किया। श्वेता खंडूरी सहित कई सेलेब्स ने खादी साड़ी पहनकर रैम्प वॉक किया। श्वेता खंडूरी ने कहा कि कोरोना काल के बाद मैंने पहली बार रैम्प वाक किया बहुत अमेजिंग महसूस हुआ। जागृति बेस्ट डिज़ाइनर हैं। चल चरखा के लिए जागृति को ढेर सारी शुभकामनाएं।

जागृति विकम ने बताया कि आप सभी आए शुक्रिया। चल चरखा एक एनजीओ है। मैं डिज़ाइनर प्रोडक्शन हेड हूँ। फिलहाल एक हजार से ज्यादा आदिवासी महिलाएं मेरे लिए काम कर रही हैं। खादी में कई तरह के कपड़े बन सकते हैं।

Aatarah शानदार गाउनस और एक्सकलुसिव ब्राइडल एथनिक वियर का खूबसूरत कलेक्शन है।

जागृति विकम को फैशन में बेहद रुचि रही है इसलिए उन्होंने फैशन डिजाइनिंग के क्षेत्र में अपनी प्रतिभा दर्शाई है। उन्होंने फैशन शब्द को एक नया मायने दिया है उन्होंने अपने ब्रांड Aatarah की शुरुआत की। इंडिया और विदेशों में भी उनके डिज़ाइन का क्लाइंट्स पर गहरा प्रभाव पड़ता है।

    

चल चरखा के बारे में बात करते हुए जागृति ने बताया कि संत दिगम्बर आचार्य विद्यासागर जी महाराज के आशीर्वाद से खादी को प्रोत्साहित करने के लिए इसकी स्थापना की गई है। भारत मे महिला सशक्तीकरण को बढ़ावा देने के उदेश्य से इसे शुरू किया गया है। इससे आदिवासी महिलाओं को रोजगार भी मिल रहा है।

——–Vijay Tasweer

Print Friendly, PDF & Email

By admin